सद्भावना और शांति बनाए रखने के लिए स्थापित रोटरी क्लब का परिचय उद्देश्य व् इतिहास

जौनपुर

 08-11-2021 09:45 AM
सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

रोटरी इंटरनेशनल (Rotary International) एक गैर-राजनीतिक‚ गैर-धार्मिक तथा अंतरराष्ट्रीय सेवा संगठन है‚ जिसका मुख्य उद्देश्य मानवीय सेवा प्रदान करने और दुनिया भर में सद्भावना और शांति बनाए रखने के लिए व्यापार और व्यवसायी लीडरों को एक साथ लाना है। इसकी सदस्यता‚ आमंत्रण द्वारा और विभिन्न सामाजिक कारकों पर आधारित होती है। रोटरी के दुनिया भर में 35‚000 सदस्य क्लब हैं‚ जिनमें 1.2 मिलियन व्यक्तियों की सदस्यता है‚ जिन्हें रोटेरियन (Rotarians) के रूप में जाना जाता है।
रोटरी का पहला क्लब तब बना था‚ जब 23 फरवरी‚ 1905 को प्रतिनिधि पॉल पी. हैरिस (Paul P. Harris) द्वारा‚ डियरबॉर्न स्ट्रीट (Dearborn Street) पर यूनिटी बिल्डिंग (Unity Building) में‚ हैरिस के मित्र गुस्ताव लोहर (Gustave Loehr) के कार्यालय में‚ संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) के शिकागो (Chicago) शहर में‚ तीन व्यावसायिक परिचितों की एक बैठक बुलाई थी। हैरिस और लोहर के अलावा‚ सिल्वेस्टर शिएले (Silvester Schiele) और हीराम ई शौरी (Hiram E. Shorey) अन्य दो थे‚ जिन्होंने इस पहली बैठक में भाग लिया। गुस्ताव लोहर एक खनन अभियन्ता तथा संगतराश थे‚ सिल्वेस्टर शिएले एक कोयला व्यापारी तथा हीराम ई शौरी एक दर्जी थे। सदस्यों ने इस क्लब के लिए ‘रोटरी’ नाम चुना‚ क्योंकि शुरू में उन्होंने‚ बाद की साप्ताहिक क्लब बैठकों को एक-दूसरे के कार्यालयों में घुमाया‚ हालांकि एक वर्ष के भीतर‚ शिकागो क्लब (Chicago club) इतना बड़ा हो गया‚ कि एक नियमित बैठक स्थान की प्रथा को अपनाना आवश्यक हो गया था। अगले चार रोटरी क्लब पश्चिमी संयुक्त राज्य (western United States) के शहरों में आयोजित किए गए‚ जिसकी शुरुआत सैन फ्रांसिस्को (San Francisco)‚ फिर ओकलैंड (Oakland)‚ सिएटल (Seattle)‚ और लॉस एंजिल्स (Los Angeles) से हुई। अमेरिका (America) में रोटरी क्लबों के राष्ट्रीय संघ का गठन 1910 में हुआ था। 3 नवंबर 1910 को‚ विन्निपेग (Winnipeg)‚ मैनिटोबा (Manitoba)‚ कनाडा (Canada) में एक रोटरी क्लब की बैठक शुरू हुई‚ जो संगठन की अंतरराष्ट्रीयता की शुरुआत थी। 22 फरवरी 1911 को‚ डबलिन‚ आयरलैंड (Dublin‚ Ireland) में रोटरी क्लब डबलिन (Rotary Club Dublin) की पहली बैठक आयोजित की गई थी। यह उत्तरी अमेरिका के बाहर स्थापित पहला क्लब था। अप्रैल 1912 में‚ रोटरी ने विन्निपेग क्लब (Winnipeg club) को चार्टर्ड किया‚ जो संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) के बाहर एक अमेरिकी शैली के सर्विस क्लब की पहली स्थापना का प्रतीक था। संयुक्त राज्य अमेरिका के बाहर एक क्लब को जोड़ने को प्रतिबिंबित करने के लिए‚ इसके नाम को 1912 में‚ इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ रोटरी क्लब (International Association of Rotary Clubs) में बदल दिया गया था। अगस्त 1912 में‚ रोटरी क्लब ऑफ लंदन (Rotary Club of London) ने एसोसिएशन से अपना चार्टर प्राप्त किया‚ जो उत्तरी अमेरिका के बाहर पहले स्वीकृत रोटरी क्लब को चिह्नित करता है। प्रथम विश्व युद्ध के दौरान‚ ब्रिटेन (Britain) में रोटरी 9 से बढ़कर 22 हो गई‚ और अन्य देशों के अन्य शुरुआती क्लबों में 1916 में क्यूबा (Cuba)‚ 1919 में फिलीपींस (Philippines) और 1920 में भारत शामिल थे। 1922 में‚ नाम बदलकर रोटरी इंटरनेशनल (आरआई) (Rotary International (RI)) कर दिया गया। भारत में चार्टर्ड सबसे पहला रोटरी क्लब‚ 1 जनवरी 1920 में‚ रोटरी क्लब ऑफ़ कलकत्ता (Rotary Club of Calcutta) था। आज पूरे देश में 3‚000 से अधिक क्लब संचालित है‚ जिसमें रोटरी क्लब ऑफ़ वापी (Rotary Club of Vapi) भी शामिल है‚ जो 2011-12 के आरआई (RI) अध्यक्ष कल्याण बनर्जी (Kalyan Banerjee) का घर है। भारत में पहला क्लब शुरू करने का श्रेय आर.जे. कूम्ब्स (R.J. Coombes) को दिया जाता है। लेकिन काफी हद तक कनाडा (Canada) के जेम्स व्हीलर डेविडसन (Wheeler Davidson) को देश में रोटरी के विकास के लिए उत्तरदायी माना जाता है। डेविडसन‚ रोटरी इंटरनेशनल कमेटी के सदस्य के रूप में‚ जिन्होंने संगठन को अन्य देशों में विस्तारित करने की खोज की‚ अगस्त 1928 में एशिया (Asia) और मध्य पूर्व में क्लब स्थापित करने में मदद करने के लिए चले गए। उनकी यात्रा ढाई साल के ओडिसी (odyssey) में बदल गई‚ जिसके परिणामस्वरूप 12 देशों में 23 क्लबों का चार्टरिंग हुआ। डेविडसन की यात्रा की शुरुआत में भारत में केवल दो क्लबों के पास चार्टर थे; कलकत्ता और लाहौर। डेविडसन‚ फरवरी 1929 में अपनी पत्नी और बेटी के साथ बंबई पहुंचे‚ वे वहां भी एक क्लब शुरू करना चाहते थे। उन्होंने कहा “1‚200‚000 के इस बड़े शहर में एक क्लब का आयोजन करना आसान काम नहीं था‚”। उनके आने से पहले तीन प्रयास विफल हो चुके थे। लेकिन उसी वर्ष मार्च में‚ डेविडसन ने सफलतापूर्वक बॉम्बे में एक क्लब का गठन किया‚ जिसे 8 मई को अपना चार्टर प्राप्त हुआ। उन्होंने कलकत्ता में रोटेरियन का दौरा करने से पहले‚ दिल्ली में एक क्लब का आयोजन किया‚ जहां नीतीश सी. लहरी (Nitish C. Laharry) क्लब सचिव के रूप में कार्यरत थे। 1962-63 में लहरी भारत के पहले आरआई अध्यक्ष बने। 23 अप्रैल को‚ डेविडसन मद्रास की 1‚032 मील की यात्रा के लिए कलकत्ता में एक ट्रेन में सवार हुए। उन्हें साल के उस समय अत्यधिक गर्मी से बचने के लिए समुद्र से यात्रा करने की सलाह दी गई थी‚ लेकिन उन्होंने ग्रामीण इलाकों को देखने के लिए रेल से जाने का विकल्प चुना। दो दिन बाद‚ डेविडसन ने मद्रास में एक समिति बुलाई‚ जिसने 10 मई को एक क्लब का आयोजन किया‚ जिसे 19 जुलाई को अपना चार्टर प्राप्त हुआ। आज रोटरी में 115‚000 से अधिक भारतीय रोटेरियन शामिल हो गए हैं। बनर्जी और लहरी के अलावा‚ कई रोटरी लीडरों ने देश को घर कहा है‚ जिसमें 1991-92 के आरआई अध्यक्ष राजेंद्र के साबू (Rajendra K. Saboo ) और 10 से अधिक आरआई निदेशक शामिल हैं। अपने सेवा कार्यक्रमों को पूरा करने के लिए रोटरी को क्लब‚ जिला और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संरचित किया गया है। रोटेरियन (Rotarians) उनके क्लब के सदस्य हैं। क्लबों को वैश्विक संगठन आरआई द्वारा चार्टर्ड किया गया है‚ जिसका मुख्यालय इवान्स्टन‚ इलिनोइस (Evanston‚ Illinois) में है। प्रशासनिक उद्देश्यों के लिए‚ दुनिया भर में 35‚000 से अधिक क्लबों को 529 जिलों और जिलों को 34 क्षेत्रों में बांटा गया है। रोटरी संस्कृतियों में समझ को बढ़ावा देते है। वे वयस्कों और युवाओं को संघर्ष को रोकने और मध्यस्थता करने के लिए प्रशिक्षित करते हैं‚ और उन शरणार्थियों की मदद करते हैं जो जोखिमी क्षेत्रों से भाग गए हैं। वे रोगों से लड़ने में मदद करते हैं‚ रोटरी दुनिया को पोलियो से हमेशा के लिए छुटकारा दिलाने के लिए संकल्पित हैं। वे अन्य बीमारियों को रोकने और स्वास्थ्य देखभाल तक पहुंच का विस्तार करने के लिए समुदायों को शिक्षित और सज्जित भी करते हैं। रोटरी हर दिन अधिक से अधिक लोगों को स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने तथा स्वच्छता लाने में मदद करते हैं। माताओं और बच्चों को स्वस्थ तथा जीवित रखने के लिए‚ गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा देखभाल‚ स्वच्छता‚ शिक्षा और आर्थिक अवसरों तक पहुंच का विस्तार करते हैं। उनका लक्ष्य बुनियादी शिक्षा और साक्षरता का समर्थन करने‚ शिक्षा में लैंगिक असमानता को कम करने तथा वयस्क साक्षरता को बढ़ाने के लिए समुदायों की क्षमता को मजबूत करना है। रोटरी सेवा परियोजनाओं को अंजाम देते हैं‚ जो आर्थिक और सामुदायिक विकास को बढ़ाती हैं और युवाओं तथा बुजुर्गों के लिए अच्छे और उत्पादक कार्यों के अवसर पैदा करती हैं। वे उन गतिविधियों का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं‚ जो प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण को मजबूत करती हैं‚ पारिस्थितिक स्थिरता को आगे बढ़ाती हैं‚ और समुदायों और पर्यावरण के बीच सामंजस्य को बढ़ावा देती हैं।

संदर्भ:
https://bit.ly/3mTwhu8
https://bit.ly/3BRGLPg
https://bit.ly/3wvEDeY
https://bit.ly/3CWz7UQ
https://bit.ly/3bMbPFl

चित्र संदर्भ

1. भारत के रोटरी इंटरनेशनल के डाक टिकट को दर्शाता एक चित्रण (wikimedia)
2  डरहम, इंग्लैंड में स्थानीय रोटरी क्लब की एक पट्टिका को दर्शाता एक चित्रण (wikimedia)
3.रोटरी इंटरनेशनल का मुख्यालय इवान्स्टन, इलिनोइस (Evanston, Illinois), संयुक्त राज्य अमेरिका में है, जिसको दर्शाता एक चित्रण (wikimedia)
4. रोटरी इंटरनेशनल एडवोकेसी ने समर्थन के लिए इथियोपिया का दौरा किया जिसको दर्शाता एक चित्रण (flickr)



RECENT POST

  • तत्वमीमांसा या मेटाफिजिक्स क्या है, और क्यों ज़रूरी है?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     24-01-2022 10:55 AM


  • नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मूल आवाज को सुनाता वीडियो
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     23-01-2022 02:30 PM


  • कैसे छिपकली अपनी पूंछ के एक हिस्से को खुद से अलग कर देती हैं ?
    रेंगने वाले जीव

     22-01-2022 10:30 AM


  • स्लम पर्यटन इतना लोकप्रिय कैसे हो गया और यह लोगों को कैसे प्रभावित करता है
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     21-01-2022 10:07 AM


  • घुड़दौड़ का इतिहास एवं वर्तमान स्थिति
    स्तनधारी

     20-01-2022 11:42 AM


  • दैनिक जीवन सहित इंटीरियर डिजाइन में रंगों और रोशनी की भूमिका
    घर- आन्तरिक साज सज्जा, कुर्सियाँ तथा दरियाँ

     19-01-2022 11:10 AM


  • पानी के बाहर भी लंबे समय तक जीवित रह सकती हैं, उभयचर मछलियां
    मछलियाँ व उभयचर

     17-01-2022 10:52 AM


  • हिन्दू देवता अचलनाथ का पूर्वी एशियाई बौद्ध धर्म में महत्व
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     17-01-2022 05:39 AM


  • साहसिक गतिविधियों में रूचि लेने वाले लोगों के बीच लोकप्रिय हो रही है माउंटेन बाइकिंग
    हथियार व खिलौने

     16-01-2022 12:50 PM


  • शैक्षणिक जगत में जौनपुर की शान, तिलक धारी सिंह महाविद्यालय
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     15-01-2022 06:28 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id