समुद्र की वास्‍तविक गहराई का मापन

जौनपुर

 18-04-2021 11:58 AM
समुद्री संसाधन
हम सभी जानते हैं की समुद्र की गहराई बहुत ज्‍यादा होती है और इसके साथ ही इनके तल में समानता नहीं होती है, जिससे इसकी गहराई में भी भिन्‍नता देखी जाती है। महासागर की सबसे गहरी जगह 11,034 मीटर (36,201 फीट) मारियाना (Mariana) है और यह प्रशांत महासागर की मारियाना ट्रेंच में चैलेंजर डीप (Challenger Deep in Pacific Ocean’s Mariana Trench) नामक स्थान पर स्थित है। क्योंकि महासागर एक विस्‍तृत जगह है और इसका अध्ययन करना कठिन कार्य है, यदि आप समुद्र की गहराई का पता लगाने के लिए ऑनलाइन खोज करते हैं, तो आपको कई अलग अलग परिणाम प्राप्‍त होंगे।

समुद्र की औसत गहराई की सबसे हालिया गणना 2010 में एनओएए (NOAA) और वुड्स होल ओशनोग्राफिक इंस्टीट्यूशन (Woods Hole Oceanographic Institution) के वैज्ञानिकों ने उपग्रह के माध्‍यम से की, जिसमें इसकी अनुमानित गहराई 3,682 मीटर (12,080 फीट) आयी। इन मापों से पता चला है कि समुद्र तल पहले से ज्ञात की तुलना में बहुत ऊबड़ खाबड़और पहाड़ी है और परिणामस्वरूप औसत समुद्र की गहराई है जो पहले की गणना से कम है।

उपग्रह द्वारा मापी गयी समुद्र की गहराई उन सभी से बेहतर अनुमान हैं जो हमने अबतक मापे हैं,उपग्रह समुद्रतल को मापने की बजाए समुद्र की सतह को खोजता है और समुद्र तल में समुद्री पर्वत जैसी आकृतियों में होने वाले परिवर्तनों का पता लगाते हैं। इसलिए समुद्री वैज्ञानिकों की जो तस्वीर मिलती है, वह बिल्कुल सही नहीं होती है और यह बहुत अच्छा समाधान भी नहीं है।

हाई-रिज़ॉल्यूशन सीफ्लोर मैपिंग (High-resolution seafloor mapping), जैसे कि NOAA शिप ओकेनोस एक्सप्लोरर (NOAA Ship Okeanos Explorer) पर किया जाता है, सैटेलाइट डेटा (satellite data) को ठीक करने के लिए आवश्यक है। वर्तमान में, हमने उच्च रिज़ॉल्यूशन में केवल पृथ्वी के सी फ़्लोर (Sea Floor) का लगभग 10 प्रतिशत मैप (Map) किया है, जिसका अर्थ है कि औसत समुद्र की गहराई का अनुमान केवल इतना ही है।

आइए समुद्र की विभिन्न गहराइयों पर जीवन का जायजा लें और चुनौती देने वाले के गहरे मिशन को देखें।

संदर्भ:

https://www.youtube.com/watch?v=P3NvJCsiv30
https://www.youtube.com/watch?v=EOShNt1vpDU


RECENT POST

  • जौनपुर की अटाला मस्जिद की विशिष्ट वास्तुतकला
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     12-05-2021 09:26 AM


  • कोरोना महामारी के चलते व्यवसायों को ऑनलाइन रूप से संचालित करने की है अत्यधिक आवश्यकता
    संचार एवं संचार यन्त्र

     10-05-2021 09:41 PM


  • सहजन अथवा ड्रमस्टिक - औषधीय गुणों से भरपूर एक स्वास्थ्यवर्धक पौधा
    जंगलपेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें साग-सब्जियाँ

     10-05-2021 08:59 AM


  • मातृत्व, मातृ सम्बंध और समाज में माताओं के प्रभाव को सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है, मदर्स डे
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     09-05-2021 11:50 AM


  • विदेशों से राहत सामग्री संजीवनी बूटी बनकर पहुंच रही है, साथ ही समझिये मानवीय मदद के सिद्धांतों को
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     08-05-2021 08:58 AM


  • हरफनमौला यानी हर हुनर से परिपूर्ण थे महान दार्शनिक तथा लेखक रबीन्द्रनाथ टैगोर।
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनिध्वनि 2- भाषायेंद्रिश्य 2- अभिनय कला द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     07-05-2021 11:27 AM


  • शास्त्रीय भारतीय नृत्य की तीन श्रेणियां है नृत्त, नृत्य एवं नाट्य
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तकध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनिद्रिश्य 2- अभिनय कला

     06-05-2021 09:32 AM


  • कोरोना महामारी के कारण विभिन्न समस्याओं से जूझ रहा है, मत्स्य उद्योग
    नदियाँभूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)खनिज

     05-05-2021 09:04 AM


  • जौनपुर में लागू होगा रोस्टर लॉकडाउन (Roster Lockdown), साथ ही जानिये क्या प्रभाव पड़ेगा आम आदमी की जेबों पर?
    वास्तुकला 2 कार्यालय व कार्यप्रणाली नगरीकरण- शहर व शक्ति

     04-05-2021 10:31 AM


  • महासागरों में पाया जाने वाला खारा जल और विश्व में नमक की स्थिति
    समुद्र

     02-05-2021 07:54 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id