कोविड-19 से लड़ रहे रोगियों के लिए आशा का स्रोत बना है, गीत ‘येरूशलेमा’

जौनपुर

 18-10-2020 10:10 AM
ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि
अप्रैल में ‘दुनिया की सबसे सख्त तालाबंदी’ के दौरान एक बहुत ही विचित्र वीडियो (Video) कई लोगों के ट्विटर फ़ीड (Twitter feed) पर प्रस्तुत हुआ, जिसमें युवाओं का एक छोटा समूह दिखा जो कि घर के पिछले आंगन में भोजन करना शुरू कर रहे थे, उसी समय एक भाषा में गीत भी बज रहा था, जिसे ज्यादातर लोग समझ नहीं पाए। तभी वीडियो में उन सभी युवाओं ने समान लय और कदम ताल के साथ डांस (Dance) करना शुरू किया। लेकिन डांस करते समय भी वे लोग बहुत सारी मुस्कुराहट, अंदाज और आत्मविश्वास के साथ अपनी प्लेटों से खाना खा रहे थे। गाने को सुनने या देखने वालों की संख्या अत्यधिक प्रभावशाली है। स्पॉटिफाई (Spotify) ने इसे 10 करोड बार स्ट्रीम (Stream) किया है, वहीं शज़ाम (Shazam) के इतिहास में यह सबसे अधिक बार खोजा जाने वाला गाना बना। यूट्युब (YouTube) पर इसे 200 मिलियन (Million) या 20 करोड व्यूज (Views) मिले हैं। फ्रांस, हंगरी, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड और बेल्जियम में शीर्ष पांच की प्रभावशीलता को कम करते हुए, यह बिलबोर्ड ग्लोब डिजिटल चार्ट (Billboard world digital charts) में भी नंबर एक था। इसी बीच, हैश-टैग (Hash-tagged-#) येरूशलेमा डांसचैलेंज (Jerusalemadancechallenge) या हैश-टैग येरूशलेमा के साथ हर दिन हजारों नए वीडियो डाले गये। इनमें से एक इतालवी नौसैनिकों ने बनाया (उनके सेनाध्यक्ष अब अनुशासनात्मक कार्यवाही का सामना कर रहे हैं)। ऐसे कई दिलचस्प उदाहरण हैं, जिन्हें देखकर लगता है कि वे दुनिया के हर कोने से हैं। पिछले महीने के अंत में, एक और अप्रत्याशित मोड़ ने गीत को राजनीति के दायरे में लिया, जब दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफौसा (Cyril Ramaphosa) ने अपने देश के नागरिकों से उस कठिन समय या दौर जिससे हम गुजरे, पर विचार करने के लिए, उन लोगों को याद करने के लिए जिन्होंने इस समय अपना जीवन खो दिया, तथा राष्ट्र की उल्लेखनीय और विविध विरासत में धीरता से आनन्दित होने के लिए इसे सक्रिय रूप से मनाने का आग्रह किया। 1 अक्टूबर को पर्यटन के लिए देश की योजना के आगे येरूशलेमाडांसचैलेंज को राष्ट्रपति सिरिल रामफौसा ने समर्थन दिया। मास्टर केजी (Master KG) और नोमसेबो ज़िकोड (Nomcebo Zikode) के 2019 के इस सरल नृत्य दिनचर्या ने कठिन समय के लिए एक उत्थान ध्वनि प्रदान की है। इस गाने पर अब दुनिया भर में नन (Nuns- महिलाओं के एक धार्मिक समुदाय के सदस्य), निर्माण श्रमिक, पुलिस अधिकारी, ईंधन परिचारक आदि के क्लिप्स (Clips) मौजूद हैं। दक्षिण अफ्रीका, जिम्बाब्वे, इटली, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और प्यूर्टो रिको में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के भावनात्मक वीडियो कोविड-19 से लड़ने वाले रोगियों के लिए आशा का उत्थान स्रोत बन गए हैं, क्योंकि कुछ देश कोविड-19 की दूसरी लहर का अनुभव कर रहे हैं।

संदर्भ:
https://www.youtube.com/watch?v=fCZVL_8D048
https://scroll.in/article/975720/jerusalema-why-a-south-african-song-has-become-the-soundtrack-to-a-world-in-lockdown


RECENT POST

  • सबसे खतरनाक जानवरों में से एक है बॉक्स जेलीफ़िश, क्या बचा जा सकता है इसके डंक से
    मछलियाँ व उभयचर

     22-09-2021 09:08 AM


  • भारत की रॉक कट वास्तुकला से निर्मित भव्य विशालकाय आकृतियां
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     21-09-2021 09:46 AM


  • लकड़ी से बनी कुछ चीजें क्यों हैं काफी महंगी?
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     20-09-2021 09:31 AM


  • इतिहास की सबसे भीषण परमाणु दुर्घटना है, चर्नोबिल परमाणु दुर्घटना
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-09-2021 12:48 PM


  • जौनपुर की अनूठी शहर संरचना है यूरोप के प्रसिद्ध शहरों जैसी
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     18-09-2021 10:07 AM


  • ओजोन परत के संरक्षण के लिए वैश्विक पैमाने पर उठाए गए कदम
    जलवायु व ऋतु

     17-09-2021 09:48 AM


  • जलवायु को विनियमित करने में महासागर की भूमिका
    समुद्र

     16-09-2021 10:09 AM


  • हाइड्रोपोनिक फार्म जब बिना मिट्टी के उग जाती हैं स्वादिष्ट व् पौष्टिक सब्जियां
    साग-सब्जियाँ

     15-09-2021 10:11 AM


  • मृदा के प्रकार व मृदा स्वास्थ्य का मानव स्वास्थ्य और पर्यावरण पर प्रभाव
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     14-09-2021 09:42 AM


  • दुनिया की विभिन्न संस्कृतियों में बिल्लियां करती हैं विभिन्न प्रतीकों का प्रतिनिधित्व
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-09-2021 06:55 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id