मोबाइल संचार में संजाल की प्रत्येक पीढ़ी का विकास

जौनपुर

 19-06-2020 11:05 AM
संचार एवं संचार यन्त्र

वर्तमान समय में मोबाइल (Mobile) उद्योग में 5G के फायदे के बारे में बहुत अधिक चर्चा हो रही है और इसके संचलित होने का सबको बेसब्री से इंतेजार है। 5G तारविहीन तकनीक उच्च मल्टी-जीबीपीएस (multi-Gbps) शिर डेटा (Data) गति, अत्यंत कम विलंबता, अधिक विश्वसनीयता, बड़े पैमाने पर संजाल क्षमता, बढ़ी हुई उपलब्धता और अधिक उपयोगकर्ता के लिए एक समान उपयोगकर्ता अनुभव प्रदान करने में सक्षम है। यह उच्च प्रदर्शन और बेहतर दक्षता नए उपयोगकर्ता अनुभवों को सशक्त बनाती है और नए उद्योगों को जोड़ती है। वहीं कई उपभोक्ताओं को याद होगा जब 2G, 3G और 4G मोबाइल संयोजकता में नवीनतम नवाचार थे। यदि देखा जाएं तो संजाल की प्रत्येक पीढ़ी अपने साथ मोबाइल संचार के विकास में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल करती है।

पहली पीढ़ी -
1G (1980 के दशक में) मोबाइल फोन तकनीक की सबसे पहली पीढ़ी थी, जो एक सादृश्य प्रौद्योगिकी थी। सादृश्य दूरसंचार का उपयोग करते समय फोन में आमतौर पर खराब बैटरी लाइफ (Battery life) होती थी और आवाज की गुणवत्ता अधिक थी बिना किसी सुरक्षा के और उसमें भी कभी-कभी यह कॉल (Call) के कटने का अनुभव होता था। 1G की अधिकतम गति 2.4 Kbps है।

दूसरी पीढ़ी –
2G (1990 के दशक की शुरुआत में) ने डिजिटल (Digital) आवाज प्रदान की थी। इस पीढ़ी का मुख्य उद्देश्य सुरक्षित और विश्वसनीय संचार चैनल प्रदान करना था। इसने कोड डिवीजन मल्टीपल एक्सेस (Code Division Multiple Access) और ग्लोबल सिस्टम फॉर मोबाइल कम्यूनिकेशन (Global System for Mobile Communications) की अवधारणा को लागू किया था। साथ ही इस पीढ़ी में एस एम एस और एमएमएस जैसी छोटी डेटा सेवा प्रदान की गई थी।
• 2.5G - 2.5G 2G- प्रणाली को दर्शाता है, जिसमें सर्किट-स्विच्ड डोमेन के अलावा पैकेट-स्विचड डोमेन को लागू किया गया। यह अनिवार्य रूप से तेज सेवा प्रदान नहीं करता है क्योंकि सर्किट-स्विच की गई डेटा सेवाओं (HSCSD) के लिए टाइमलैट्स (Time slot) के बंडल का उपयोग किया जाता है। जिसे जनरल पैकेट रेडियो सर्विस भी कहा जाता है
• 2.75G - जनरल पैकेट रेडियो सर्विस संजाल 8PSK संकेतीकरण की शुरूआत के साथ एनहैंस्ड डाटा रेट्स फॉर जीएसएम ईवोलूशन (Enhanced Data Rates for GSM Evolution) संजाल में विकसित हुआ।

तीसरी पीढ़ी -
इस पीढ़ी ने अधिकांश तार रहित तकनीक के मानकों को निर्धारित किया था। 3G (2000 के दशक की शुरुआत में) में वेब ब्राउजिंग (Web browsing), ईमेल (E-mail), वीडियो अधोभारण, तस्वीर साझा करना और अन्य स्मार्टफोन तकनीक को पेश किया गया था। तीसरी पीढ़ी के मोबाइल संचार के लिए निर्धारित लक्ष्य अधिक से अधिक आवाज और डेटा क्षमता को सुविधाजनक बनाने, आवेदनों की एक विस्तृत श्रृंखला का समर्थन करने और कम लागत पर डेटा प्रसारण बढ़ाने के लिए था। 3G मानक अपने मूल संजाल वास्तुकला के रूप में यूनिवर्सल मोबाइल टेलीकॉम सिस्टम नामक एक नई तकनीक का उपयोग करता है। यह संजाल कुछ नई तकनीक और नवाचार के साथ 2G संजाल के पहलुओं को जोड़ता है ताकि काफी तेज डेटा दर प्रदान किया जा सके।
• 3.5G - 3.5G एक असमान मोबाइल टेलीफोनी और डेटा प्रौद्योगिकियों का समूह है जो 3G प्रणाली से बेहतर प्रदर्शन प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया था, पूर्ण 4G क्षमता की तैनाती के लिए एक अंतरिम कदम के रूप में।
• 3.75G - यह हाई स्पीड पैकेट एक्सेस (HSPA) का दूसरा चरण है।

चौथी पीढ़ी -
3G की तुलना में 4G एलटीई (LTE) (2010) एक बहुत ही अलग तकनीक है और पिछले 10 वर्षों में प्रौद्योगिकी में प्रगति के कारण इसे व्यावहारिक रूप से संभव बनाया गया था। इसका उद्देश्य सुरक्षा में सुधार करते हुए उपयोगकर्ताओं को उच्च गति, उच्च गुणवत्ता और उच्च क्षमता प्रदान करना है और आईपी (IP) से आवाज और डेटा सेवाओं, मल्टीमीडिया (Multimedia) और इंटरनेट की लागत को कम करना है। संभावित और वर्तमान अनुप्रयोगों में संशोधित मोबाइल वेब एक्सेस, आईपी टेलीफोनी, गेमिंग सेवाएं, उच्च परिभाषा मोबाइल टीवी, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, 3D टेलीविज़न और क्लाउड कंप्यूटिंग शामिल हैं। जिन प्रमुख तकनीकों ने इसे संभव बनाया है वे हैं मल्टीपल इनपुट मल्टीपल आउटपुट (Multiple Input Multiple Output) और ऑर्थोगोनल फ्रिक्वेंसी डिवीजन मल्टीप्लेक्स (Orthogonal Frequency Division Multiplexing)।
• 4.5G - 4.5G 4G प्रणाली से बेहतर प्रदर्शन प्रदान करता है, जो पूर्ण 5G प्रणाली की दिशा में एक कदम है।

पाँचवी पीढ़ी -
5G वर्तमान में विकास के दौर से गुजर रही पीढ़ी है, जिसका उद्देश्य 4G पर सुधार करना है। 5G की कुछ योजनाओं में डिवाइस-टू-डिवाइस (Device-to-device) संचार, बेहतर बैटरी की खपत और बेहतर तार रहित आवृत शामिल हैं। 5G की अधिकतम गति 35.46 Gbps जितना तेज होने का लक्ष्य है, जो 4G की तुलना में 35 गुना अधिक तेज है। इसमें प्रमुख तकनीक व्यापक MIMO, मिलीमीटर वेव मोबाइल संचार आदि शामिल हैं।

वहीं जैसा कि हम जानते ही हैं कि अभी तक हमारे समक्ष 5G नहीं आया है, लेकिन 5G के आने से पहले ही 6G भी काफी चर्चा में आ गया है। आइए 6G के बारे में कुछ बातें स्पष्ट करें और जानें कि इस भविष्य की तकनीक की स्थिति वास्तव में क्या है। हालांकि 6G अंततः भविष्य में 5G की जगह लेगा, लेकिन वर्तमान में 6G एक कार्यशील तकनीक नहीं है और साथ ही प्रारंभिक अनुसंधान चरण में है। कुछ शोधकर्ताओं के समूह ने 6G के ऊपर शोध करना शुरू कर दिया है और उनका मानना है कि 6G के आने में अगले 10 वर्ष लग सकते हैं। साथ ही ऐसा माना जा रहा है कि 6G तकनीक काफी हद तक 5G जैसी ही होगी, बस 5G से थोड़ी अधिक विकसित होगी। जिसमें उच्च गति, कम विलंबता और अधिक संख्य में बैंडविड्थ (Bandwidth) शामिल होगा। यदि सब कुछ 5G का उपयोग करके एक साथ जोड़ दिया जाता है, तो 6G इन संयोजित यंत्रों को स्वतंत्र कर देगा, जो उच्च डेटा गति और कम विलंबता में यंत्र से यंत्र संयोजन को संभव बनाएगा।

चित्र सन्दर्भ:
1. मुख्य चित्र में क्षेत्र विशेष में 5G संचार को दिखाया है। (Prarang)
2. दूसरे चित्र में मोबाइल फ़ोन जनरेशन (mobile phone generations) को दिखाया गया है। (Freepik)
3. तीसरे चित्र में 5G के माध्यम से संचालित होने वाले उपकरणों का संजाल दिखाया गया है। (Pngtree)

संदर्भ :-
1. https://www.qualcomm.com/invention/5g/what-is-5g
2. http://net-informations.com/q/diff/generations.html
3. https://en.wikipedia.org/wiki/List_of_mobile_phone_generations
4. https://justaskthales.com/us/generations-mobile-networks-explained/
5. https://www.digitaltrends.com/mobile/what-is-6g/



RECENT POST

  • जौनपुर का गौरवपूर्ण इतिहास दर्शाती है खालिस मुखलिस मस्जिद
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     17-06-2021 10:42 AM


  • दुनिया भर में लोकप्रियता के मामले में फुटबॉल ने क्रिकेट को पछाड़ दिया है
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     15-06-2021 08:55 PM


  • देवनागरी लिपि का इतिहास और विकास
    ध्वनि 2- भाषायें

     15-06-2021 11:20 AM


  • कोविड के दौरान देखी गई भारत में ऊर्जा की खपत में गिरावट
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     14-06-2021 09:13 AM


  • पानी में तैरने, हवा में उड़ने, और बिल को खोदने के लिए सांपों ने किए हैं, अपने शरीर में कुछ सूक्ष्म परिवर्तन
    व्यवहारिक

     13-06-2021 11:42 AM


  • प्रथम और द्वितीय विश्वयुद्ध ने दिया भारतीय स्वतंत्रता में महत्वपूर्ण योगदान
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     12-06-2021 11:21 AM


  • जापान के आधुनिकीकरण का मुख्य प्रतीक है. दांची शैली में बने घर
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     11-06-2021 09:44 AM


  • पर्यावरण में अमार्जक की भूमिका निभाते गिद्धों कि वर्तमान स्थिति
    पंछीयाँ

     10-06-2021 10:04 AM


  • कला. संकट के समय एक प्रेरणा का स्रोत है
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     09-06-2021 09:59 AM


  • अपार संपदा के भण्‍डार और बहुद्देश्‍यों की पूर्ति के कारक हमारे महासागर
    समुद्र

     08-06-2021 08:41 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id