जौनपुरी आम

जौनपुर

 10-04-2017 12:00 AM
साग-सब्जियाँ
आम का उत्पाद पूरे भारत मे किसी न किसी संख्या मे होता है| परन्तु जब हम आम के उत्पादन दर पर ध्यानाकर्शित करते है तो पता चलता है की आंध्रप्रदेश आम के उत्पादन मे प्रथम स्थान पर है| उत्तर प्रदेश आम उत्पादन मे तीसरे स्थान पर है| आम भारत का राष्ट्रीय फल है तथा विश्व के 52% आम का उत्पाद भारत में ही होता है| 2002-03 के आँकड़ों के अनुसार विश्व के सम्पूर्ण २३ लाख टन आम के उत्पाद मे से 12 लाख टन सिर्फ भारत में उत्पादित हुआ था| भारत प्रतिवर्ष करीब 45 हज़ार टन आम निर्यात करता है, जिसका मूल्य 100 करोड़ रुपए के बराबर है| भारतीय आम की सबसे बड़ी मांग अमेरिका मे है जो की आम के कुल निर्यात का करीब 45% भाग आयातित करता है| जौनपुर प्रतिवर्ष 22 हज़ार चार सौ मैट्रिक टन आम की पैदावार करता है| जिसमे विभिन्न प्रकार के आम शामिल हैं उदाहरणत लंगड़ा, दशहरी, मिठउआ, आम्लिअहवा, भदउआ, खरबुजहवा आदि|

RECENT POST

  • जौनपुर किला विश्व के अन्य किलों से कैसे अलग है
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     14-05-2021 09:41 PM


  • ईद उल फ़ित्र या ईद उल फितर अल्लाह का शुक्रिया अदा करने का सबसे खास मौका होता है
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     14-05-2021 09:49 AM


  • जुगनुओ की विशेषता और पर्यटन का इसपर प्रभाव
    शारीरिकव्यवहारिक

     13-05-2021 05:35 PM


  • जौनपुर की अटाला मस्जिद की विशिष्ट वास्तुतकला
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     12-05-2021 09:26 AM


  • कोरोना महामारी के चलते व्यवसायों को ऑनलाइन रूप से संचालित करने की है अत्यधिक आवश्यकता
    संचार एवं संचार यन्त्र

     10-05-2021 09:41 PM


  • सहजन अथवा ड्रमस्टिक - औषधीय गुणों से भरपूर एक स्वास्थ्यवर्धक पौधा
    जंगलपेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें साग-सब्जियाँ

     10-05-2021 08:59 AM


  • मातृत्व, मातृ सम्बंध और समाज में माताओं के प्रभाव को सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है, मदर्स डे
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     09-05-2021 11:50 AM


  • विदेशों से राहत सामग्री संजीवनी बूटी बनकर पहुंच रही है, साथ ही समझिये मानवीय मदद के सिद्धांतों को
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     08-05-2021 08:58 AM


  • हरफनमौला यानी हर हुनर से परिपूर्ण थे महान दार्शनिक तथा लेखक रबीन्द्रनाथ टैगोर।
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनिध्वनि 2- भाषायेंद्रिश्य 2- अभिनय कला द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     07-05-2021 11:27 AM


  • शास्त्रीय भारतीय नृत्य की तीन श्रेणियां है नृत्त, नृत्य एवं नाट्य
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तकध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनिद्रिश्य 2- अभिनय कला

     06-05-2021 09:32 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id