जापानी फिल्म संस्कृति की झलक प्रदर्शित करती प्रमुख फिल्में

जौनपुर

 19-01-2020 10:00 AM
द्रिश्य 2- अभिनय कला

जापानी फिल्मों की बात करने से पहले आइये जापानी भाषा और इसके इतिहास की थोड़ी जानकारी ले लेते हैं, जिससे हमें जापानी भाषा और इसके महत्व का थोडा अंदाज़ा लग सके।

जापानी भाषा एक पूर्व एशियाई भाषा है जो विश्वभर में लगभग 128 मिलियन लोगों द्वारा बोली जाती है। यह जापोनिक या जापानी-रयुक्युआन (Japanese-Ryukyuan) भाषा परिवार का सदस्य है, और अन्य भाषाओं, जैसे कि कोरियाई (Korean) के साथ इसका संबंध है। भाषा के प्रागितिहास के बारे में देखें तो सर्वप्रथम तीसरी शताब्दी के चीनी दस्तावेजों में कुछ जापानी शब्द दर्ज किए गए, लेकिन 8 वीं शताब्दी तक पर्याप्त ग्रंथ दिखाई नहीं दिए। हियान (Heian) काल (794–1185) के दौरान, पुरानी जापानी भाषा की शब्दावली और स्वर विज्ञान पर चीनी भाषा का काफी प्रभाव था। मध्य युग के अंत में जापानी (1185-1600) में वो बदलाव शामिल थे जिन्होंने इसे आधुनिक भाषा के करीब लाकर खड़ा किया और इसी समय में जापानी भाषा में यूरोपीय ऋण शब्दों (Loan Words) की पहली उपस्थिति दर्ज की गयी। मानक बोली प्रारंभिक आधुनिक जापानी काल (17 वीं शताब्दी के मध्य से 19 वीं शताब्दी) में कंसाई क्षेत्र से एडो (आधुनिक टोक्यो) क्षेत्र में चलायमान थी। जापान के आत्म-रोपित अलगाव यानी 1853 के अंत के बाद जापानी भाषा में यूरोपीय भाषाओं के ऋण शब्दों का प्रवाह काफी बढ़ गया। विशेष रूप से, अंग्रेजी ऋण शब्द बोलचाल में आम शब्द बन गए, और अंग्रेजी जड़ों से जापानी शब्दों का प्रसार हुआ।

जापानी का चीनी के साथ कोई आनुवंशिक संबंध नहीं है, लेकिन यह अपने लेखन प्रणाली में चीनी वर्णों या कांजी का व्यापक उपयोग करता है, और इसकी शब्दावली का एक बड़ा हिस्सा चीनी भाषा से उद्धृत है। कांजी के साथ, जापानी लेखन प्रणाली मुख्य रूप से दो मोरासिक) लिपियों, हीरागाना और कटकाना (hiragana and katakana) का उपयोग करती है।

1990 के दशक के मध्य से जापानी फिल्म निर्माण में पुनरुत्थान हुआ है।
आइये बात करते हैं जापानी भाषा की कुछ प्रमुख फिल्मों की जिनमें जापानी संस्कृति को प्रदर्शित करने की कोशिश की गयी है -

1. द गार्डन ऑफ़ वर्ड्स (The Garden of Words) - एनीमे (Anime) जापान का पर्याय है, लेकिन एनीमे में कभी-कभी माध्यम या किरदार को अधिक किशोर, काल्पनिक या मसालेदार रूप में पेश किया जाता है। स्टूडियो घिबली (Studio Ghibli) जैसे पावरहाउस (Powerhouse) स्टूडियो एक सम्मोहक विकल्प हैं। यदि आप कुछ अलग देखना या महसूस करना चाहते हैं, तो इसकी शुरुआत निर्देशक मकोतो शिनकाई (Makoto Shinkai) के 50 मिनट के इस रोमांटिक ड्रामा से कर सकते हैं। टोक्यो (Tokyo) के एक पार्क में अपने से अधिक उम्र की महिला के साथ एक हाई स्कूल की छात्रा का आकस्मिक मिलना दोनों के लिए जीवन-बदल प्रभाव बन जाता है। न्यूनदर्शित और विचारात्मक फिल्म परिपक्व और सम्मोहक कहानियों को बताने के लिए माध्यम के रूप एनीमे की क्षमता को प्रदर्शित करती है।
2. तेत्सुओ (द आयरन मैन) (Tetsuo (The Iron Man) - द रिंग (The Ring) की सफलता के लिए 90 के दशक के अंत में जापानी हॉरर (Japanese horror) एक विश्वव्यापी पसंद बन गई, लेकिन यह श्रेष्ठ फिल्म (Classic Movie) जापान के बाहर प्रचलित होने वाली अपनी तरह की पहली फिल्म थी।
3. द हिडन फोर्ट्रेस (The Hidden Fortress) - जापानी फिल्मों के ग्रैंड मास्टर (Grand Master) अकीरा कुरोसावा (Akira Kurosawa) द्वारा निर्मित फिल्मों में से सिर्फ एक फिल्म चुनना लगभग असंभव है। यदि आपके गले में एक समुराई तलवार रखी जाए और आपको चुनने के लिए मजबूर किया जाए, तो आप शायद इसी फिल्म को चुनना पसंद करेंगे, एक उत्कृष्ट कृति जिसने उस समय के कुछ सबसे महत्वपूर्ण पश्चिमी फिल्म निर्माताओं की कल्पनाओं को हवा दी। यह फिल्म एक निर्वासित राजकुमारी द्वारा अपने राज्य को बहाल करने के लिए एक प्रतिहिंसक सेनापति को परास्त करने की कहानी है। इस प्रकार ड्रामा, एक्शन और कुरोसावा के अति सुंदर सिनेमाई दृश्यों का एक संयोजन लिए यह फिल्म अति उत्कृष्ट कृति है।
4. जीरो ड्रीम्स ऑफ़ सुशी (Jiro Dreams of Sushi) - भोजन और कड़ी मेहनत दो महान जापानी जुनून हैं और डेविड गेल्ब (David Gelb) की डॉक्यूमेंट्री एक ऐसे आदमी के दिमाग के अन्दर उपस्थित आकर्षक खिड़की है जो इन दोनों ही जुनूनों में उत्कृष्टता रखता है। जीरो ओनो (Jiro Ono), फिल्मांकन के समय 85 वर्षीय वृद्ध है, जो टोक्यो के प्रसिद्ध सुशी रेस्तरां (एक मेट्रो स्टेशन में 10 लोगों के बैठने की व्यवस्था का वह स्थान जो न्यूनतम 250 पाउंड के लिए एक सेट मेनू प्रदान करता है) में से एक को चलाता है। ओनो का सर्वग्राही, पाक सम्पूर्णता का निष्ठुर लक्ष्य हैरान कर देने वाला है। एक प्रशिक्षु के तौर पर ओनो को विशेष रूप से चावल तैयार करने में दस साल खर्च करने पड़े इससे पहले कि वह उन्हें मछली के एक टुकड़े के पास भी रखें लेकिन फिल्म का अंतिम परिणाम उनके व्यंजन के रूप में स्वादिष्टता प्रकट करता है।
5. तम्पोपो (Tampopo) – जापानी भोजन के बारे में एक और महान फिल्म, और महान जापानी हास्य (Japanese Comedies) फिल्मों में से एक है, ट्रक ड्राइवरों की एक जोड़ी एक एकल माँ की टोक्यो में सबसे बडी रेमन बावर्ची (Ramen Chef) बनने में मदद करती है। निर्देशक जूजो इटामी का 1997 में दुखद निधन हो गया था, लेकिन जिस तरह से हम खाना पकाने और खाने को रोजमर्रा की जिंदगी से जोड़ते हैं, इस अद्भुत खोज में उनकी शरारत का ट्रेडमार्क अर्थ प्रचुर मात्रा में है। आकर्षक और कामुक (कुछ सेक्स दृश्यों का मतलब है कि यह केवल एक वयस्क व्यक्ति है), यह इटामी की प्रतिभा का एक स्थायी प्रमाण है। फिल्म के निर्देशक जूजो इटामी का 1997 में दुखद निधन हो गया लेकिन जिस प्रकार हम खाना पकाने और खाने को रोजमर्रा की जिंदगी से जोड़ते हैं उसी प्रकार इस अद्भुत अन्वेषण में उनके अन्दर दुसरों से भिन्न शरारत की ट्रेडमार्क (Trademark) भावना प्रचुर मात्रा में है। यह इटामी की प्रतिभा का एक स्थायी प्रमाण है।
6. टोक्यो स्टोरी (Tokyo Story) - जापान विकसित दुनिया में सबसे विनम्र और सभ्य देशों में से एक के रूप में एक प्रतिष्ठा प्राप्त करता है। हालाँकि, यह एक ऐसा देश है, जो अकेलेपन से त्रस्त है। निर्देशक यासुजिरो ओनो (Yasujiro Ono) ने अपने प्रशंसित नाट्यरूप में इस भावनात्मक विद्वता पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया है, जो एक बुजुर्ग दंपति की कहानी कहता है, जो केवल भावनात्मक उपेक्षा पाने के लिए शहर में अपने संतानों की यात्रा का भुगतान करते हैं। बड़ी मुस्कुराहट में छिपी कोमल लेकिन गहराई से प्रभावित इस कहानी में पात्र अपना आक्रोश और दिल का दर्द छिपाते हैं।
7. 13 असैसिन्स (13 Assassins) – कुरोसावा (Kurosawa) की तरह, ताकाशी मीके (Takashi Miike) द्वारा यह एक सर्वश्रेष्ठ फिल्म चुनने की कोशिश में किया गया एक कठिन प्रयास है। आंतक के तमाशे से भरी इस फिल्म में एक विचित्र आदमी को दिखाया गया है, जो अपनी शक्तियों और महत्वाकांक्षाओं की ऊंचाइयों पर है। इस व्यक्ति को नीचे लाने के लिए रोनिन का एक कबीला (A Clan of Ronin) गुप्त कार्यवाही (Covert Operation) करता है। मीके द्वारा सभी के मस्तिष्क सम्मोहन के लिए सभी पड़ावों को निकालने से पहले फिल्म के प्रारम्भिक दो भाग एक उदासीन और विषादपूर्ण ऐतिहासिक नाटक पर आधारित हैं। फिल्म के अंतिम भाग में नरक के सभी द्वार खुल जाते हैं, जब एक सेना के रूप में भीड़ लड़ती है और खून कि नदियाँ बहती हैं। यह फिल्म मीके के सर पर एक सजे ताज में एक कोहिनूर की तरह है और जापान की सबसे बेहतरीन एक्शन (Action) फिल्मों में शुमार है।
8. वी आर एक्स (We Are X)- गमन (Gaman) ज़ेन-बौद्ध (Zen-Buddhist) शब्द है, जो असहनीय परिस्थितियों और दर्दों को सहन करने की अवधारणा से संबंधित है। ग्रीक वैराग्य (Greek Stoicism) की तुलना में, इसे जापानियों द्वारा मेहनत, इंतेज़ार, फल एवं उसकी प्रशंसा (जैसे:- खेती) के रूप में पहचाना जाता है। यदि कोई समसामयिक जापानी इकाई गमन का उदहारण देती है, तो वह एक्स (एक ऐतिहासिक हैवी मेटल बैंड (Heavy Metal Band) जिसकी कहानी किसी भी ग्रीक त्रासदी के बराबर होगी) के रूप में देती है। निर्देशक स्टीफन किजक (Stephen Kijak) द्वारा बनायी गयी यह पुरस्कार विजेता वृत्तचित्र (Documentry) में इस बैंड और इसके प्रतिष्ठित अधिनायक योशिकी (Yoshiki) दोनों की विस्तार से जांच की जाती है। इस फिल्म में दो सदस्यों की आत्महत्या से लेकर योशिकी की स्वास्थ्य समस्याओं तक सभी द्रष्टांग अनावृत रखे गये हैं। इस फिल्म के अंत में जो प्रेरणा उभरती है वह एक उत्थान कथा है जो न केवल मानवीय दृढ़ता को श्रद्धांजलि देती है अपितु कला और मानवता की मुक्ति की क्षमता सबसे निराशाजनक परिस्थितियों में आशा का पोषण करने की क्षमता है।
9. वायलेंट कोप (Violent Cop) – अगर जापानी फिल्मों के बारे में बात की जाए तो कोई सूची ताकेशी कितानो (Takeshi Kitano) उर्फ बीट ताकेशी (Beat Takeshi) के बिना पूरी नहीं हो सकती है। फिल्म निर्माता, कॉमेडियन, लेखक, मीडिया पर्सनैलिटी (media personality) और हरफनमौला ताकेशी कितानो ने अपने निर्देशन की शुरुआत इस बहतरीन क्राइम थ्रिलर से की। सभी प्रमुख विषय जो उनके काम पर हावी हैं - क्रूरता, पुरुषत्व, अलगाव - यहां शामिल हैं। यहां यह ध्यान रखना भी दिलचस्प है कि कितानो ने अपने मूवी-मेकिंग करियर की शुरुआत में ही अपनी सिग्नेचर मिनिमलिस्ट शैली (signature minimalist style) को किस तरह से ठोस बनाया है। इस फिल्म में सिर काटे जाते हैं, प्रमुखों का भंडाफोड़ किया जाता है, वरिष्ठों को तिरस्कृत किया जाता है और सिगरेट कि एक पूरी खेप धुंए में उडाई जाती है। यह फिल्म जासूस अज़ुमा (Azuma) पर आधारित है जो जापानी अंडरवर्ल्ड पर गंभीर चोट पहुँचाने के लिए कार्यरत है।
10. बैटल रोयाल (Battle Royale) – यह फिल्म जापान में सिनेमा के लिए एक गेम-चेंजर (Game-Changer), और प्रशंसित फिल्म निर्माता किंजी फुकासाकू (Kinji Fukasaku) का अंतिम काम है। एक दूसरे को मारने के लिए मजबूर जूनियर हाई स्कूल के एक झुंड की दुर्दशा एक अनुरूप वार है, जो जापान में वास्तविक जीवन में छात्रों की दुर्दशा पर लागू होता है। दुनिया भर में दर्शकों को चौंका देने के करीब 20 साल बाद भी, इस फिल्म ने अपनी कोई भी शक्ति नहीं खोई है।

सन्दर्भ:-
1.
https://theculturetrip.com/asia/japan/articles/10-films-that-will-help-you-understand-japan/
2. https://en.wikipedia.org/wiki/Japanese_language
3. https://en.wikipedia.org/wiki/Languages_of_Japan



RECENT POST

  • शाश्वत प्रतीक्षा का प्रतीक है नंदी (बैल)
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     03-07-2020 11:09 AM


  • शिल्पकारों के कलात्मक उत्साह को दर्शाती है पेपर मेशे (Paper mache) हस्तकला
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     01-07-2020 11:53 AM


  • इत्र उद्योग में जौनपुर का गुलाब
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     01-07-2020 01:18 PM


  • अंतरिक्ष की निरंतर निगरानी के महत्व को रेखांकित करते हैं, क्षुद्रग्रह हमले
    खनिज

     30-06-2020 06:59 PM


  • परी कथा से कम नहीं है- भारतीय आभूषणों का इतिहास
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     29-06-2020 10:20 AM


  • क्या है, फिल्म शोले के गीत महबूबा से जुड़ा दिलचस्प तथ्य
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     28-06-2020 12:15 PM


  • जौनपुर की अपनी प्राचीन पाक कला
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     27-06-2020 09:25 AM


  • भाषा का उपयोग केवल मानव द्वारा ही क्यों किया जाता है?
    व्यवहारिक

     26-06-2020 09:25 AM


  • कांटो भरी राह से डिजिटल स्वरूप तक सूप बनाने की पारंपरिक हस्तकला का सफर
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     25-06-2020 01:30 PM


  • धार्मिक और आयुर्वेदिक महत्व रखता है, आंवला
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     24-06-2020 11:55 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.