अरेंज्ड मेरिज की मधुर कशमकश को दर्शाती है लघु फिल्म अनअरेंज्ड

जौनपुर

 01-09-2019 11:47 AM
नगरीकरण- शहर व शक्ति

व्यवस्थित विवाह (Arranged Marriage) एक प्रकार का वैवाहिक मिलन होता है, जिसमें वर-वधू का चयन स्वयं जोड़े के अलावा अन्य व्यक्तियों द्वारा किया जाता है, विशेषकर परिवार के सदस्यों जैसे माता-पिता द्वारा। इस विवाह में अक्सर बिलकुल विपरीत व्यक्तित्व वाले विभिन्न शहरों के दो अजनबियों को जीवन भर के लिए एक ही बंधन में बाँधा जाता है। कई संस्कृतियों में व्यवस्थित विवाह ऐतिहासिक रूप से प्रमुख रहा है। यह प्रथा कई क्षेत्रों में आम है, विशेष रूप से दक्षिण एशिया में। हालांकि दुनिया के कई अन्य हिस्सों में 19वीं और 20वीं शताब्दी के दौरान इस प्रथा में काफी गिरावट आई है। 18वीं शताब्दी तक पूरी दुनिया में व्यवस्थित विवाह बहुत आम थे। आमतौर पर, विवाह का आयोजन माता-पिता, दादा-दादी या अन्य रिश्तेदारों द्वारा किया जाता था। कुछ ऐतिहासिक अपवादों को देखें तो, इटली के पुनर्जागरण काल के दौरान प्रेमालाप और सगाई अनुष्ठान और भारत के वैदिक काल में गंधर्व विवाह व्यवस्थित विवाह के ही रूप थे।

चीन में, व्यवस्थित विवाह 20वीं शताब्दी के मध्य से पहले आदर्श थे। एक शादी माता-पिता और दो परिवारों के अन्य पुराने सदस्यों के बीच बातचीत और निर्णय के द्वारा होती थी। लड़के और लड़की को आम तौर पर शादी करने के लिए कहा जाता था, भले ही वे शादी के दिन तक एक दूसरे से कभी नहीं मिले हों। सामाजिक गतिशीलता और बढ़ते व्यक्तिवाद के साथ समृद्ध देशों में व्यवस्थित विवाह में गिरावट आई है; फिर भी, यूरोप और उत्तरी अमेरिका के देशों में, शाही परिवारों, अभिजात वर्ग और अल्पसंख्यक धार्मिक समूहों जैसे संयुक्त राज्य के कट्टरपंथी मॉर्मन समूहों (Mormon groups) के बीच अभी भी व्यवस्थित विवाह देखे जाते हैं। व्यवस्थित विवाह भारतीय उपमहाद्वीप के समाजों में एक परंपरा है, और यह व्यवस्था भारतीय उपमहाद्वीप में विवाह के एक विशाल बहुमत के लिए जारी है, इस तथ्य के बावजूद कि दोनों भारतीय जनसंचार माध्यमों (जैसे बॉलीवुड/Bollywood) और लोकगीतों में भी प्रेम विवाह और प्रेम को पूर्ण रूप से माना जाता है। भारत में व्यवस्थित विवाह आज भी विश्व के अन्य भागों की अपेक्षा कहीं ज़्यादा सफल हैं।

बिल्कुल विपरीत व्यक्तित्व वाले विभिन्न शहरों के दो अजनबियों को 'जीवन का बंधन' निभाने के लिए बनाया गया है - विवाह। ‘अनअरेंज्ड’ (Unarranged) एक लघु फिल्म (Short Film) है, जिसमें दिखाया गया है कि किस तरह से विवाह की व्यवस्था की जाती है, जो अभी भी भारतीय समाज में प्रचलित है। वे उतने डरावने नहीं हैं जितना कि उन्हें माना जाता है। इस लघु फिल्म को ‘नाटक पिक्चर्स’ (Natak Pictures) द्वारा यूट्यूब (Youtube) पर प्रदर्शित किया गया है।

सन्दर्भ:
1. https://en.wikipedia.org/wiki/Arranged_marriage_in_the_Indian_subcontinent
2. https://en.wikipedia.org/wiki/Arranged_marriage
3. https://www.youtube.com/watch?v=RnRmgAFpv3s


RECENT POST

  • परिवहन के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी कृत्रिम बुद्धिमत्ता अर्थात AI
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     27-05-2022 09:37 AM


  • खाद्य यादों में सभी पांच इंद्रियां शामिल होती हैं, इस स्मृति को बनाती समृद्ध
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     26-05-2022 08:17 AM


  • जौनपुर सहित यूपी के 6 जिलों से गुज़रती पवित्र सई नदी, क्यों कर रही अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष?
    नदियाँ

     25-05-2022 08:18 AM


  • जंगलों की मिटटी में मौजूद 500 मिलियन वर्ष पुरानी विस्तृत कवक जड़ प्रणालि, वुड वाइड वेब
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     24-05-2022 07:38 AM


  • चंदा मामा दूर के पे होने लगी खनिज संसाधनों के लिए देशों के बीच जोखिम भरी प्रतिस्पर्धा
    खनिज

     23-05-2022 08:47 AM


  • दुनिया का सबसे तेजी से उड़ने वाला बाज है पेरेग्रीन फाल्कन
    व्यवहारिक

     22-05-2022 03:53 PM


  • क्या गणित से डर का कारण अंक नहीं शब्द हैं?भाषा के ज्ञान का आभाव गणित की सुंदरता को धुंधलाता है
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     21-05-2022 11:05 AM


  • भारतीय जैविक कृषि से प्रेरित, अमरीका में विकसित हुआ लुई ब्रोमफील्ड का मालाबार फार्म
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     20-05-2022 09:57 AM


  • क्या शहरों की वृद्धि से देश के आर्थिक विकास में भी वृद्धि होती है?
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     19-05-2022 09:49 AM


  • मिट्टी से जुड़ी हैं, भारतीय संस्कृति की जड़ें, क्या संदर्भित करते हैं मिट्टी के बर्तन या कुंभ?
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     18-05-2022 08:49 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id