जौनपुर की पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म नदिया के पार का रीमेक

जौनपुर

 27-03-2019 09:30 AM
द्रिश्य 2- अभिनय कला

वर्ष 1982 में एक फिल्म आयी 'नदिया के पार', ये फिल्म सचिन पिलगांवकर, इंदर ठाकुर, मिताली और साधना सिंह की मुख्य भूमिकाओं से सजी थी। इस फिल्म का विषयवस्तु उत्तर प्रदेश के जौनपुर पर केंद्रित था और ग्रामीण जीवनशैली पर बनी इस फिल्म का फिल्मांकन कुछ ऐसा किया गया था कि इसने सबका मन मोह लिया। यह फिल्म मूल रूप से एक ग्रामीण प्रेम कहानी पर आधारित थी। बाद में इसे तेलुगु में भी प्रेमालयम नाम से अनुवादित किया गया था। राजश्री प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित इस फिल्म की कहानी श्री केशव प्रसाद मिश्र के उपन्यास 'कोहबर की शर्त' के शुरुआती आधे भाग से ली गयी है।

परंतु इस फिल्म को सुखद अंत देने के लिये इसमें उपन्यास से अलग कुछ परिवर्तन किये गये हैं। यह फिल्म न केवल उत्तर प्रदेश, बल्कि पूरे देश में ब्लॉकबस्टर साबित हुई। इस फिल्म के बारे में आप हमारे इस लेख में भी पढ़ सकते है।

इसके बारह साल बाद 1994 में ठीक ऐसी ही एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म आई जोकि बहुत बड़ी हिट साबित हुई और जिसमें सलमान खान और माधुरी दीक्षित मुख्य भूमिकाओं में थे, वह फिल्म थी - 'हम आपके हैं कौन'। दरअसल हम आपके हैं कौन पुरानी हिट फिल्म 'नदिया के पार' का रीमेक थी परंतु ये बात बहुत कम लोग जानते है और इन दोनों ही फिल्मों का निर्माण राजश्री प्रोडक्शंस के तहत हुआ था।

दोनों फिल्मों की कहानी बिल्कुल एक जैसी है, भाभी की छोटी बहन से प्यार, फिर भाभी की अचानक मौत, उसके बाद बड़े भाई के पुनर्विवाह का प्रस्ताव और दो प्रेमियों के बीच उलझन। हालांकि नदिया के पार में फिल्म ग्रामीण जीवन शैली पर आधारित थी जिसमें बैलगाड़ी से आना जाना आदि चीज़ें दिखाई गई थीं। तो वहीं हम आपके हैं कौन में ठीक इसके विपरित सूरज बड़जात्या ने शहरी परिवेश पर आधारित फैमिली ड्रामा को फिल्माया। ये फिल्म भी बहुत बड़ी हिट साबित हुई और इसके साथ जूता चुराई की रसम भी पुनः शुरू हो गई। साथ ही साथ इस फिल्म के गाने जैसे दीदी तेरा देवर दीवाना, पहला-पहला प्यार है आदि भी लोगों को खूब भाए जोकि आज भी सभी की जुबान पर चढ़े हुए है।

संदर्भ:
1. https://bit.ly/2HRGhjK
2. https://bit.ly/2FwcQAM
3. https://jaunpur.prarang.in/posts/1890/postname
4. https://www.youtube.com/watch?v=oYFq4WD4oqY



RECENT POST

  • इस्लामिक वास्तुकला के विशिष्ट उदाहरणों में से एक है, जौनपुर की खालिस मुखलिस मस्जिद
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     22-09-2020 10:51 AM


  • भारतीय शिल्प निर्माण का अनूठा उत्पाद हैं, काली मिट्टी के बर्तन
    म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण

     21-09-2020 04:16 AM


  • ऐतिहासिक एलिफेंटा गुफाएं
    खदान

     20-09-2020 08:23 AM


  • व्यक्ति के बारे में कई जानकारियां हासिल कर पाने में सक्षम है, डीएनए परीक्षण (DNA Test)
    डीएनए

     19-09-2020 01:10 AM


  • बैटरियों का बैंक क्या है? क्या यहां वास्‍तव में बैटरियां मिलती है?
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     18-09-2020 02:29 AM


  • प्राचीन युद्धों के मुख्य किरदार और चतुरंग सेना के मुख्य खंड: हाथी
    हथियार व खिलौने

     17-09-2020 06:07 AM


  • खयाल गायकी
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     16-09-2020 02:18 AM


  • आखिर कितने तारे हैं ब्रह्माण्‍ड में?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     15-09-2020 02:09 AM


  • आत्मा, मानव मृत्यु और अंतिम निर्णय से सम्बंधित है परलोक सिद्धांत
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     14-09-2020 04:19 AM


  • अपने राजसी एशियाई शेरों के लिए प्रसिद्ध है, गिर वन्यजीव अभयारण्य
    जंगल

     13-09-2020 04:13 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id